Teri-Meri Aashiqui। तेरी – मेरी आशिकी। Part – 01। हिंदी कहानी

Teri-Meri Aashiqui। तेरी - मेरी आशिक़ी

Author – Avinash Kumar हमारी आंखें भी अक्सर उसी के ख्वाब  देखते है, जिसे पाना हमारी हाथों के लकीरों में नहीं होती है। मगर इन आंखों को कहां पता होती है कि हमारी भूल की वजह से दिल को सारी उम्र तड़पना पड़ता है।  कॉलेज का पहला दिन मुझे आज भी याद है जब मेरी … Read more

Teri-Meri Aashiqui। तेरी – मेरी आशिकी। Part – 02। हिंदी कहानी

Teri-Meri Aashiqui। तेरी - मेरी आशिक़ी

Author – Avinash Kumar रात  को हम पूरे परिवार के साथ भोजन के लिए डाइनिंग टेबल पर बैठे थे। मुझे, भैया और मां को मिलाकर ही हमारी पूरी फैमिली कंप्लीट थी ।  पापा की मृत्यु आज से 12 साल पहले कंपनी में हुए एक बड़े हादसे के कारण हो गई थी। पापा के मौत के … Read more

Teri-Meri Aashiqui। तेरी – मेरी आशिकी। Part – 03। हिंदी कहानी

Teri-Meri Aashiqui। तेरी - मेरी आशिक़ी

Author – Avinash Kumar “अच्छा ! तो इस छोटे को एक बड़े नाम भी है।” यह बोल कर वह फिर हँस पड़ी। “वैसे आपका नाम क्या है ?” मैंने पूछा।  ” नाम की इतनी भी जल्द क्या है छोटे ? समय आएगा तब जान जाईयेगा।” इतना बोल कर वह मुस्कुराती हुई चली गई। उसकी मुस्कान … Read more

Teri-Meri Aashiqui। तेरी – मेरी आशिकी। Part – 04। हिंदी कहानी

Teri-Meri Aashiqui। तेरी - मेरी आशिक़ी

Author – Avinash Kumar मैंने पलट कर देखा। वह अपने आंखों से इशारा कर  मुझे डांस टीम में जाने बोल रही थी। साथ ही वह अपने अंगूठे से लूजर (Looser) का इशारा भी कर रही थी। इसके बाद मैंने कुछ सोचा नही सीधा डांस ग्रुप में चला गया। फिर जो डांस किया वह सबके होश … Read more

Teri-Meri Aashiqui। तेरी – मेरी आशिकी। Part – 05। हिंदी कहानी

Teri-Meri Aashiqui। तेरी - मेरी आशिक़ी

Author – Avinash Kumar लेकिन वो लोग भी नहीं बता पाए की आखिर जूता कहाँ हैं और ये जूते ग़ायब  कैसे हुआ ? तभी वहां पर भैया के कुछ सालियाँ आयें और जूते देने की बदलें में भैया से रीति-रिवाज के अनुसार पैसे मांगे। उन लड़कियों में दीपा भी शामिल थी। यह देखकर मैं समझ … Read more

Teri-Meri Aashiqui। तेरी – मेरी आशिकी। Part – 06। हिंदी कहानी

Teri-Meri Aashiqui। तेरी - मेरी आशिक़ी

Author – Avinash Kumar एक-दूसरे को अच्छी तरह से समझ लिए थे । अब हमारी बातें फोन पर भी घंटो- घंटे तक होने लगी थी। मैं कई दिनों से यह सोच रहा था। यार! दीपा को प्रपोज कर दूं लेकिन साला यह अपना फट्टू  दिल हिम्मत ही नहीं कर पा रहा था। कई बार तो … Read more

Teri-Meri Aashiqui। तेरी – मेरी आशिकी। Part – 07। हिंदी कहानी

Teri-Meri Aashiqui। तेरी - मेरी आशिक़ी

Author – Avinash Kumar “बस ऐसे ही ” मैंने थोड़ी धीमी आवाज में बोला। “फिर भी क्या हुआ? ऐसा क्यों बोल रहे हो ? ” उसने दोबारा पूछी। “वैसे तुम्हारे क्लास में एक अमिताभ बच्चन जैसी दाढ़ी रखा कोई लड़का है ?” मैंने पूछा। “हां …..हां…..उसका नाम देवांशु है। वह बहुत अच्छा लड़का है।” दीपा … Read more

Teri-Meri Aashiqui। तेरी – मेरी आशिकी। Part – 08। हिंदी कहानी

Teri-Meri Aashiqui। तेरी - मेरी आशिक़ी

Author – Avinash Kumar “अरे हां मैं उसी की बात कर रही हूं। मुझे तो उसकी रहन-सहन बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता है। पता नहीं कैसी लड़की है?”  सुजाता मौसी कटुता भरी स्वर में बोली। “दीदी आप उसके बारे में गलत सोच रही है। दीपा बहुत अच्छी लड़की है और आपको पता है ना! वह … Read more

Teri-Meri Aashiqui। तेरी – मेरी आशिकी। Part – 09। हिंदी कहानी

Teri-Meri Aashiqui। तेरी - मेरी आशिक़ी

Author – Avinash Kumar “अच्छा आप हो ! क्यों जी इतनी जल्दी क्यों जाना चाह रही हैं ? थोड़ा मेरे तरफ से भी रुक जाइए।” अर्जून भैया बोले। उस दिन भैया के बात से पता चल रहा था कि उस दिन भैया काफी अच्छा मूड में थे। मैंने दीपा को अपने आंखों से रुक जाने … Read more

Teri-Meri Aashiqui। तेरी – मेरी आशिकी। Part – 10। हिंदी कहानी

Author – Avinash Kumar ”पागल हो ? इतनी रात को अगर हम दोनो को एक साथ आदिती दी (दीदी) या कोई और देख लेगा तब बबाल      हो जायेगा।” दीपा मुझे समझाती हुई बोली। “अरे तुम भी ना! तुम  खाम-खा डर रही हो। अब तक तो सारे लोग सो चुके होंगे।” मैंने कहा। “विडीयो … Read more

error: Content is protected !!